सरकारी योजना एवं सरकारी नौकरियों की ताजा अपडेट के लिए टेलीग्राम जॉइन करें- Click Here
NewsSarkari Yojana

Ration Card: राशन कार्डधारकों को मिली राहत, सब खुशी से झूम जाएंगे ये जानिए

राशन कार्ड पर केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, देश भर में लागू हुआ राशन का नया नियम

Ration Card: राशन कार्डधारकों को मिली राहत, सब खुशी से झूम जाएंगे ये जानिए

Ration Card Update: सरकार ने राशन को लेकर पूरे देश में नया नियम लागू कर किया है। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून (National Food Security Law) के तहत लाभार्थियों को सही मात्रा में खाद्यान्न उपलब्ध पाये इसलिए केंद्र सरकार ने राशन दुकानों के लिए नया आदेश जारी किया है इसकी पूरी जानकारी आप नीचे विस्तार से देखें।

सरकारी योजनाओं की जानकारी के लिए टेलीग्राम से जुड़े

Click Here

राशन कार्डधारकों को मिली राहत

Ration Card News Update: अगर आप भी राशन कार्ड धारक हैं और सरकार से फ्री राशन योजना का लाभ उठा रहे हैं तो आपके लिए अच्छी खुशखबरी है। आपको बता दें कि सरकार के इस नियम को लागू होने के बाद कोटेदार कम राशन नहीं दे सकेंगे। सरकार ने कोटेदारों के लिए नया नियम लागू किया है।

एक ओर सरकार ने लोगों के फायदे के लिए फ्री राशन की अवधि दिसंबर तक बढ़ा दी है। वहीं, दूसरी और मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी ‘वन नेशन वन राशन कार्ड योजना’ भी पूरे देश में लागू हो गई अब सभी दुकानों पर ऑनलाइन इलेक्ट्रानिक प्वाइंट आफ सेल यानी पीओएस डिवाइस को अनिवार्य कर दिया गया है। सरकार के इस फैसले से अब किसी भी लाभार्थी को कम राशन नहीं मिलेगा। और योजना का लाभ लेने मे भी आसानी होगी।

Ration Card अब पूरा मिलेगा तौल का राशन

केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून (National Food Security Law) के तहत लाभार्थियों को पूरा राशन उपलब्ध हो इसके लिए राशन की दुकानों पर इलेक्ट्रॉनिक पॉइंट ऑफ़ सेल (EPOS) उपकरणों को इलेक्ट्रॉनिक तराजू के साथ जोड़े जाने के लिए खाद्य सुरक्षा कानून नियमों में संशोधन किया है। इसके बाद अब सभी कोटेदारों को इलेक्ट्रॉनिक तराजू रखना जरूरी है। सरकार इसके लिए इंस्पेक्शन भी करवा रही है ताकि योजना का लाभ सभी लोगो को आसानी से मिल सके।

देश भर में लागू हुआ राशन का नया नियम

सरकार के इस आदेश के बाद अब देश में उचित दर वाली सभी दुकानों को आनलाइन इलेक्ट्रानिक प्वाइंट आफ सेल यानी पीओएस डिवाइस से जोड़ दिया गया है। यानी अब राशन तौल में गड़बड़ी की कोई गुंजाइश ही नहीं बची है। आपको बता दें कि सरकार ने राशन डीलरों को हाइब्रिड माडल की प्वाइंट आफ सेल मशीनें मुहैया कराइ गई हैं, सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) के लाभार्थी को किसी भी सूरत में कम राशन न मिले। आपको बता दें कि ये मशीनें ऑनलाइन मोड के साथ ही नेटवर्क न रहने पर ऑफलाइन भी काम करेंगी।

क्या है नियम?

सरकार की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, यह संशोधन एनएफएसए के तहत लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली (TPDS) के संचालन की पारदर्शिता में सुधार के माध्यम से अधिनियम की धारा 12 के तहत खाद्यान्न तौल में सुधार प्रक्रिया को और आगे बढ़ाने का एक प्रयास है। दरअसल, लगातार ये शिकायत आती रहती थी कि कई जगहों पर कोटेदार कम राशन तौलते हैं। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) के तहत सरकार देश के करीब 80 करोड़ लोगों को प्रति व्यक्ति, प्रति माह पांच किलो गेहूं और चावल (खाद्यान्न) क्रमश: 2-3 रुपये प्रति किलोग्राम की रियायती दर पर दे रही है।

ये हुए बदलाव

सरकार ने जानकारी दी कि ईपीओएस (EPOS) उपकरणों को उचित तरीके से संचालित करने वाले राज्यों को प्रोत्साहित करने और 17.00 रुपये प्रति क्विंटल के अतिरिक्त मुनाफे से बचत को बढ़ावा देने के लिए खाद्य सुरक्षा (राज्य सरकार की सहायता नियमावली) 2015 के उप-नियम (2) के नियम 7 में संशोधन किया गया है। इसके तहत पॉइंट ऑफ सेल डिवाइस की खरीद, संचालन और रखरखाव की लागत के लिए प्रदान किए गए अतिरिक्त मार्जिन से अगर किसी भी राज्य/केंद्र शासित प्रदेश को यदि बचत होती है तो इसे इलेक्ट्रॉनिक तौल तराजू की खरीद, संचालन एवं रखरखाव के साथ दोनों के एकीकरण के लिए उपयोग में लाया जा रहा है. यानी सरकार अब लाभर्थियों तक पूरा राशन पहुंचाने के लिए सख्त हो गई है।

EPFO की सैलरी लिमिट बढ़ेगी, सरकारी आदेश करें चेक

यह भी पढ़ें

सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म भरने पर जल्दी मिलेगा फयदा

श्रमिक कार्ड का लाभ

ई श्रम कार्ड के लिए योग्यता

Important Links

Official Website Click Here
Sarkari Yojana Update Click Here
e-Shram Card Payment Click Here
Join Telegram Click Here

ताजा खबरें सबसे पहले देखने के लिए WhatsApp Group Join करें - Click Here
ताजा खबरें सबसे पहले देखने के लिए Google News Follow करें - Click Here

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button