भिखारियों को पैसे देना सही है या गलत जानिए

भिखारियों को पैसे की जगह देना चाहिए भोजन व कपड़े, भिखारियों की ऐसे करें सहायता

भिखारियों को पैसे देना सही है या गलत जानिए
भिखारियों को पैसे देना सही है या गलत जानिए

भिखारियों को पैसे देना सही है या गलत जानिए

SearchDuniya.Com

भिखारियों को पैसे क्यों नहीं देना चाहिए जानिए खास वजह

सर्च दुनिया के इस आर्टिकल में आज हम जानेंगे कि भिखारियों को भीख देने से क्या होता है साथ ही इस आर्टिकल में हम यह भी जानेंगे कि भिखारियों को पैसे देना सही है या गलत, भीख देने से बच्चों के अपहरण पर क्या प्रभाव पड़ता है, इन सभी सवालों की जानकारी आपको नीचे दी गई है तो आप इस आर्टिकल को शुरू से आखिर तक पूरा पढ़े.

भिखारियों को पैसे देना सही है या गलत जानिए

अपने आस-पास व पर्यटन स्थल, नगर व शहरों मैं आजकल हमें हर जगह भिखारी भीख मांगते हुए मिल जाते हैं. जिनमें से अधिकतर बच्चे होते हैं जिनकी आयु 8 से 20 साल के मध्य तक होती है.

ऐसे बच्चे जिनकी आयु पढ़ने लिखने की होती है.

उन बच्चों को सड़कों पर भीख मांगते हुए देखकर बड़ा दुख होता है.

क्योंकि उन बालकों के माता-पिता नहीं होते बल्कि वह बच्चे ज्यादातर ऐसे बच्चे होते हैं.

जैसे कि हम सुनते हैं कि बच्चा किडनैप हो गया या बच्चा गुम गया ऐसे बच्चे ही ज्यादा था भीख मांगते हैं,

क्योंकि उन बच्चों को जो लोग किडनैप करते हैं वह उनसे अपने लिए भीख मंगवाते हैं.

आइए जानते हैं भीख देना सही है या गलत और बच्चों को किडनैप होने से कैसे बचा सकते हैं

तथा भिखारियों की संख्या कैसे कम कर सकते हैं

यदि भीख ना दे तो क्या दें

ऊपर बताई गई बातों को पढ़ने के बाद आपका सवाल यह होगा कि यदि हम भीख ना दे तो क्या दें इसका जवाब यह है कि यदि आप वास्तव में गरीबों की सहायता करना चाहते हैं. तो उनको पैसे नहीं बल्कि खाना दे, पानी दे सकते हैं भोजन दे सकते हैं.

यदि हो सके तो उन्हें कपड़े, वस्त्र, स्लिपर, जूते आदि दे सकते हैं.

यदि हम भिखारियों को पैसे नहीं देंगे तो  देंगे तो भिखारियों की संख्या कम होने लगेगी तथा जो लोग बच्चों को किडनैप करके उनसे भीख मंगवाते हैं.

वह भी बच्चों का किडनैप करना बंद कर देंगे जब उन्हें पैसे ही नहीं मिलेंगे,

तो बच्चों का कितने होना अपने आप बंद हो जाएगा.

यह अभियान तभी सफल हो सकता है जब हम सब लोग मिलकर इसको सफल बनाने का कार्य करेंगे .

बच्चों को भीख में पैसे ना देने से क्या होगा समाज में परिवर्तन

अंतर्राष्ट्रीय / राष्ट्रीय / राज्य स्तर पर, ‘भिखारियों’ के गिरोह टूट जाएंगे और फिर बच्चे का अपहरण अपने आप बंद हो जाएगा। इस तरह के गिरोह आपराधिक दुनिया में खत्म हो जाएंगे.

  इस आर्टिकल का उद्देश्य

यह आर्टिकल समाज में भिखारियों की संख्या कम करने और

समाज में सुधार वह परिवर्तन लाने के लिए लिखा गया है.

यदि हम सब लोग मिलकर भिखारियों को पैसों की जगह भोजन, वस्त्र, कपड़े, पानी

आदि ही देंगे तो भिखारियों की संख्या अपने आप कम हो जाएगी

तथा बच्चों का अपहरण होना अपने आप ही बंद हो जाएगा.

 

नोट:  यदि आप समाज में परिवर्तन चाहते हैं दिल से चाहते हैं कि भिखारियों की संख्या कम हो जाए आर्टिकल में बताई गई बातें आपको अच्छी लगी हो तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और सबको इस अभियान को सफल बनाने में शामिल करें.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here