लिव-इन रिलेशनशिप कानून के फायदे और नुकसान रखे ये सावधानियाँ

लिव इन रिलेशनशिप और शादी में अंतर | लिव-इन रिलेशनशिप कानून

लिव-इन-रिलेशनशिप-कानून के फायदे और-नुकसान-रखे-ये-सावधानियाँ
लिव-इन रिलेशनशिप कानून के फायदे और नुकसान रखे ये सावधानियाँ

लिव इन रिलेशनशिप कानून के फायदे और नुकसान रखे ये सावधानियाँ

Live In Relationship Kya Hai | रिलेशनशिप क्या है | रिलेशनशिप का मतलब क्या होता है | लिव-इन रिलेशनशिप कानून

SearchDuniya.Com

रिलेशनशिप क्या है लिव-इन रिलेशनशिप कानून

जब कोई लड़की और लड़का एक साथ एक छत के निचे पति-पत्नी की तरह रहना चाहते है तो उन्हें सबसे पहले शादी जैसे पवित्र बंधन में बंधना पड़ता है। उसके बाद ही वे एक-दूसरे के साथ एक छत के निचे रह सकते है। परंतु वर्तमान में इस दुनिया में एक और रिवाज आ गया है जिसको रिलेशनशिप कहा जाता है।

लिव इन रिलेशनशिप जब एक लड़का और लड़की आपसी सहमति के बाद बिना शादी के पति पत्नी

की तरह रह रहें हो तो उस रिश्ते को लिव इन रिलेशनशिप कहा जाता है।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे की लिव इन रिलेशनशिप क्या है। Live In Relationship के फायदे और नुकसान क्या है। यदि आप लिव इन रिलेशनशिप में रहना चाहते है तो आपको Live In Relationship कानून के बारे पूरी जानकारी होनी चाहिए।

लिव इन रिलेशनशिप कानून के फायदे और नुकसान रखे ये सावधानियाँ

Live In Relationship Kya Hai

जब लड़का और लड़की स्वेच्छा से शादी से पहले पति-पत्नी की तरह एक ही छत के नीचे रहते हैं,

तो ऐसे रिश्ते को लिव इन रिलेशनशिप कहा जाता है। वर्तमान में विदेशो में ही नहीं बल्कि भारत में भी लिव-इन रिलेशनशिप का का प्रसार तेजी से बढ़ रहा है। लेकिन Live In Relationship में रहने से पहले लड़का और लड़की एक दूसरे को अच्छे से जानने और पहचानने के बाद ही Live In Relationship रहते है। जिससे की उन्हें ये अहसास होता है की वे दोनों भविष्य में एक-दूसरे के साथ जिंदगी गुजर सकते है या नहीं। इसलिए वे शादी से पहले लिव इन रिलेशनशिप में  पसंद करते है। कुछ लोग रिलेशनशिप को टाइमपास, और इच्छा पूर्ति का एक माध्यम भी मानते हैं तो तो कुछ लोग इसे सही नहीं मानते है।

कुछ लोग सोचते है की लिव इन रिलेशनशिप में कोई फायदा होता होगा।

लेकिन हम आपको बता दे की जिन चीजों में फायदा होता है उनसे हमें नुकसान भी उठाना पड सकता है।

तो आइये जानते है की लिव इन रिलेशनशिप के फायदे व नुकसान तथा Live In Relationship में किन बातो का ध्यान रखना चाहिए।

 

लिव इन रिलेशनशिप के फायदे – Live In Relationship Ke Fayde

जहाँ लिव इन रिलेशनशिप के नुकसान है वहीपर इसके कुछ फायदे भी है तो जानते है इसके क्या फायदे है।

यदि आप अपने पार्टनर के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे हैं तो आपको उसके बारे में जानकारी मिलती हैं।

शादी के बाद आपको किन जिम्मेदरियो को उठाना है ये पूरी जानकारी लिव-इन रिलेशनशिप में मिल जाती है।

यदि लिव-इन रिलेशनशिप में अच्छा पार्टनर मिला है तो इससे आप की जिंदगी से उसके साथ सही गुजार सकते है।

जब दोनों लोग लिव इन रिलेशनशिप में रहते हैं, तो उन दोनों को समझ में आ जाता है कि शादी के बाद उन दोनों को कौन-कौन सी जिम्मेदारियां उठानी पड़ सकती हैं। उन दोनों को अपनी जिम्मेदारियों का एहसास हो जाता है।

दोनों को ये पता चलता है की उन्हें आगे कितना खर्चा करना है और कितना पैसा बचाना है।

 

आपको जानकर अच्छा लगेगा कि जो लोग काफी लंबे समय से एक दूसरे के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रहते हैं।

तो उसमें मेल पार्टनर की संपत्ति में फीमेल पार्टनर को ऑटोमेटिक आधा हिस्सा मिल जाता है। क्योंकि यह एक कानून बनाया गया है और इस कानून के हिसाब से मेल पार्टनर को इसका पालन करना पड़ता है।

 

लिव इन रिलेशनशिप के नुकसान – Live In Relationship Ke Nuksan

Live In Relationship फायदे क्या-क्या हैं ये तो आपने जान लिया अब बात करते हैं

लिव इन रिलेशनशिप के नुकसान के बारे में

  • अगर लिव इन रिलेशनशिप में आपको पार्टनर बुरा मिल गया है, तो यह रिलेशनशिप टूटने के बाद आपको जिंदगी भर वो रिलेशनशिप बुरे ख्वाब की तरह याद आता रहता है .
  • जो लोग लिव इन रिलेशनशिप में रहते हैं उन दोनों को हमेशा इस बात का खतरा रहता है,
  • कि उनका पार्टनर उन्हें छोड़कर कभी भी जा सकता है।
  • जब आपके परिवार वालों को इस लिव इन रिलेशनशिप के बारे में पता चलता है
  • तो वे बेवजह बहुत ही परेशान होते हैं और इसकी वजह से आपको भी तनाव झेलना पड़ जाता है .
  • कभी भी लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहिए । जो लोग बहुत ही भावुक होते हैं उनके लिए यह लिव-इन-रिलेशनशिप खराब है .
  • भारतीय समाज की बात करे तो भारतीय समाज के काफी लोग इस लिव इन रिलेशनशिप को अच्छा नहीं मानते हैं .
  • लिव इन रिलेशनशिप में सबसे बड़ी और खतरनाक बात यह होती है कि आप इसमें एक दूसरे के साथ बिना शादी के पति पत्नी की तरह रहते हैं।
  • यानी कि शारीरिक संबंध भी बनाते हैं
  • ऐसे में उनके रिलेशनशिप खत्म होने के बाद अगर वह किसी और के साथ अपना भविष्य बना रहे हैं
  • या शादी कर रहे हैं तो उनकी शादीशुदा जिंदगी भी खराब हो सकती है।

 

भारत में लिव इन रिलेशनशिप अवैध हैं

भारत के सर्वोच्च न्यायालय के एक फैसले में कहा है लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले जोड़े को कानूनी रूप से विवाहित माना जाएगा। सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा कि यदि एक अविवाहित युगल पति और पत्नी के रूप में एक साथ रह रहे हैं, तो उन्हें कानूनी तौर पर शादीशुदा माना जाएगा और महिला अपने साथी की मृत्यु के बाद संपत्ति का वारिस होने के योग्य होगी लेकिन इसके लिए कुछ बाते है जो लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युवक युवतियों को सिद्ध करनी होगीं।

 

लिव-इन रिलेशनशिप कानून

  1. लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे युवक युवतियों को पति-पत्नी के तौर पर रहना होगा।
  2. जो भी लिव-इन रिलेशनशिप में रहना चाहते हैं
  3. उनकी उम्र शादी के लिए कानून के द्वारा तय उम्र के बराबर या अधिक होनी चाहिए।
  4. इसके अलावा सही उम्र के साथ बाकी जरूरी सभी योग्यताओ को पूरा करना चाहिए, जैसे कि- दोनों ही अविवाहित होने चाहिए

 

लिव इन रिलेशनशिप और शादी में अंतर

लिव इन रिलेशन का मतलब है कि महिलाएं और पुरुष बिना शादी के आपसी सहमति के बाद पति-पत्नी

की तरह एक ही घर में रहते हैं। महानगरों में लिव इन की शुरुआत शिक्षित और आर्थिक रूप से स्वतंत्र लोगों द्वारा शुरू किए गए थे जो शादी की कठोरता से छुटकारा चाहते थे।

इस रिलेशन को किसी भी पक्ष की सहमति के बिना किसी भी समय समाप्त किया जा सकता है।

 

विवाह केवल दो लोगों का नहीं बल्कि दो परिवारों का मिलन है।

शादी में, लड़के और लड़की को सामाजिक रूप से एक सूत्र में बांधा जाता है।

शादी में पुरुष और महिला दोनों का सम्मान और प्रतिष्ठा निहित है।

भारतीय समाज में विवाह की परंपरा शुरू से चली आ रही है। शादी आमतौर पर एक अविवाहित पुरुष और एक अविवाहित महिला के बीच होती है।

 

लिव-इन रिलेशनशिप के दौरान सावधानियाँ ( लिव-इन रिलेशनशिप कानून )

  • अब बात करते हैं कि अगर आप लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे हैं
  • तो आपको किन बातों का ध्यान और सावधानियां रखनी चाहिए।
  • अगर आप किसी के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे हैं, तो एक बात का ध्यान हमेशा रखें कि कहीं आपका पार्टनर आपका इस्तेमाल तो नहीं कर रहा है।
  • जब भी आप किसी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहे, तो एक बात का ध्यान आपको जरूर रखना चाहिए
  • कि आपकी कोई भी पर्सनल फोटो या वीडियो आपके पार्टनर के पास ना हो।
  • वरना लिव-इन-रिलेशनशिप टूटने के बाद वह उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है।
  • अगर आपकी उम्र बहुत ही कम है तो आपको कभी भी भूलकर लिव इन रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहिए।
  • इस बात का ध्यान आपको हमेशा रखना चाहिए कि आप कहीं अपने पार्टनर के लिए सिर्फ मन बहलाने वाली वस्तु तो नहीं बन कर रह गए हैं।
  • अगर आप काफी लंबे समय से एक दूसरे के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में हैं और अभी भी आपके रिश्ते में खटास है और आपको ऐसा लगता है कि आपका आगे कोई भविष्य नहीं है।
  • उसके साथ तो उसी समय आपको अपने पार्टनर के साथ लिव-इन रिलेशनशिप तोड़ देना चाहिए।
  • जब भी आप किसी के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रहे तो इस बात का ध्यान हमेशा रखें,
  • कि आपका पार्टनर कहीं इसलिए तो आपके साथ नहीं रह रहा कि उसे पैसे की जरूरत है।
  • सिर्फ पैसों के इस्तेमाल के लिए वह आपके साथ रह रहा हो।

आप चाहें लिव-इन रिलेशनशिप (Live In Relationship) में जिंदगी भर रहें। मगर, किसी भी रिश्ते को लंबे समय तक टिकाने के लिए उसके नियम-कानून (Live In Relationship Latest Law) और कुछ व्यवहारिक बातों को जान लेना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here