Mool Niwas एसे बनाए घर बेठे, ऑनलाइन आवेदन

Mool Niwas एसे बनाए घर बेठे, ऑनलाइन आवेदन

Mool Niwas Kaise Banta Hain –  राजस्थान मूल निवास प्रमाण-पत्र अप्लाई ऑनलाइन

अप्लाई ऑनलाइन – How To Apply Online Bonafied Certificate In Rajasthan

आज हम बात करेंगे राजस्थान मूल निवास प्रमाण-पत्र (Rajasthan Bonafied Certificate ) के बारे में | राजस्थान का मूल निवास केसे बनता है, Mool Niwas Kaise Banta Hai, मूल निवास क्या-क्या काम मे आता है, मूल निवास बनाने में क्या क्या दस्तावेज़ लगते है, मूल निवास के  लिए ऑनलाइन आवेदन केसे करे, mool niwas बनाने मे कितने रुपये लगते है, घर बेठे अपन खुद मूल निवास केसे बनवाए, हम आपको स्टेप बाई स्टेप पूरी जानकारी बतायंगे |

पूरी जानकारी-

मूल निवास प्रमाण-पत्र केसे बनता है

Mool Niwas Kaise Banta Hai 

मूल निवास सभी राज्यों में बनता है और हर राज्य में अपने हिसाब से ऑनलाइन प्रक्रिया होती है। सभी राज्यों का तरीका अलग-अलग हो सकता है, लेकिन मूल निवास जहां-जहां काम आता है वो सब एक जैसा है। मूल निवास हमारा एक तरह का पहचान पत्र होता है। मूल निवास से यह साबित होता है कि हम कौनसे राज्य में निवास में करते है और कितने सालों से रह रहे है। यह हमारा पते का भी प्रमाण पत्र होता है। आज हम सभी को मूल निवास प्रमाण पत्र की जरूरत होती है और जो कोई भी पढाई कर रहा है उन सभी को मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाना जरूरी होता है।

Mool Niwas Kaise Banta Hain और कहां काम आता है

Mool Niwas बहुत सी जगहो पर काम आता है

चाहे फिर सरकारी योजनाओं का लाभ लेना हो या फिर सरकारी नौकरी की बात हो, मूल निवास सभी राज्यो में काम आता है |

  • मूल निवास पढाई सम्बन्धित सभी जगहाें पर काम करता है।
  • सरकारी नौकरी में मूल निवास बहुत जरूरी होता है।
  • छात्रवृति लेने के लिए भी मूल निवास बनवावना जरूरी होता है।
  • जब आप 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण कर लेते हो और कॉलेज में एडमिशन लेते हो तो मूल निवास प्रमाण पत्र की जरूरत पडती है।
  • ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए भी आप मूल निवास प्रमाण पत्र लगा सकते हो।

मूल निवास प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज

राजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र बनाने के लिए आपके पास 5 दस्तावेज का होना जरूरी है और बाकी दस्तावेज जो हम बता रहे है वो लडकियों के लिए है जो भी शादीशुदा होने पर।

  • आधार कार्ड/ जन्म प्रमाण पत्र / 10वीं अंकतालिका (जिसका बन रहा है उसका लगेगा)
  • राशन कार्ड
  • पहचान पत्र/वोटर आई डी/मतदाता पहचान पत्र (10 साल पुरानी होनी चाहिए) (खुद का बना हुआ है तो खुद अगर नहीं बना हुआ है तो अपने पिता का लगाना है)
  • एक पासपोर्ट साइज फोटो (स्वयं की)
  • मूल निवास एप्लीकेशन फार्म
  • अगर मतदाता पहचान पत्र नहीं है तो आप वोटर लिस्ट भी लगा सकते हो और हां वोटर लिस्ट 10 साल पुरानी होनी चाहिए जिसमें आपका या आपके पिता का नाम होना चाहिए जो कि आपको तहसील में मिल जाती है।
  • शादीशुदा होने पर मैरिज सर्टिफिकेट (केवल लडकियों के लिए)
  • पति का मूल निवास (शादीशुदा होने पर केवल लडकियों के लिए)

Important Update

सभी दस्तावेज ऑरिजिनल स्कैन करने है। दोस्‍तों सरकार को समय-समय पर नियम बदलने पड़ते हैं क्‍योंकि बहुत तरह के फर्जीवाडे होते हैं और भी बहुत तरह जैसे कोई वोटर आईडी का सन बदल देता हैं तो ऐसे में सरकार ने नया फैसला लिया हैं कि अब जो भी आप दस्‍तावेज लगाओगें वो सभी ओरिजनल ही स्‍कैन करने पड़ेगें।

Mool Niwas प्रमाण-पत्र हेतु आवेदन पत्र

सबसे पहले आपको मूल निवास का फार्म डाउनलोड करना है और उसके बाद पूरे फार्म को भरना है जो निम्न प्रकार है:-

  • सबसे पहले प्रार्थी का नाम
  • पिता का या पति का नाम
  • वर्तमान स्थायी पता
  • पिता या पति का मूल स्थान
  • पिता या पति का व्यवसाय
  • आप पता लिख सकते हो और चाहे अपना जिले का नाम भी लिख सकते हो
  • जन्म स्थान में अपने जिले का नाम लिखना है
  • जन्म दिनांक
  • इसमें आप अपनी स्कूल का नाम लिख सकते हो और कोई जरूरी भी नहीं है।
  • स्वयं/पिता की अचल सम्पत्ति का विवरण मय स्थान में जिले का नाम लिखना है।
  • क्या मतदाता सूची में नाम पर हां करना है।
  • इसमें आपको वर्ष डालना है कि आप राजस्थान में कब से निवास कर रहे हो जैसे 20 साल या 30 साल जो भी
  • मोबाइल नम्बर

शादीशुदा महिला का Mool Niwas Kaise Banta Hain

  1. क्या आप विवाहित है इसमें हां करना है।
  2. आपका विवाह कब और किसके साथ हुआ – सत्र डालना है और पति का नाम
  3. आपकी शादी का सत्र और पति का जिला डालना है।
  4. लास्ट में प्रार्थी के हस्ताक्षर करने है।

उत्तरदायी व्यक्तियों द्वारा सत्यापन

इसमें आपको दो कॉलम मिलेगें दोनों कॉलम को आपको नहीं भरना है। इनमें आपको दो गजेस्टेड ऑफिसर के साइन करवाने है जैसे एक साइन आप पार्षद या सरपंच के करवा लेना और दूसरा भी अलग पार्षद या अलग सरपंच या फिर आप डॉक्टर, लैक्चरर आदि के करवा सकते हो। दोनों की मोहर भी लगवाना जरूरी है। कार्यालय उपयोग के लिए इसको आपको खाली छोडना है।

शपथ पत्र

पहले वाले में अगर आप 18 साल से बडे हो तो खुद का नाम फिर पिता का नाम उसके पूरा पता और फिर नीचे जिले का नाम, शिक्षा में जिल का नाम, और फिर साइन करने है बस हो गया फार्म कम्पलिट नाबालिग होने की दशा में अपने पिता का नाम फिर अपने दादा का नाम, पूरा पता, जिले का नाम, खुद का नाम, खुद की आयु, जन्म स्थान में जिले का नाम, शिक्षा में जिले का नाम और साइन अपने पिता के ही करवाने है। विवाहित महिलाओं को अपना नाम पति का नाम, पति का पता, फिर नीचे पति का नाम और लास्ट में साइन खुद के करने है।

राजस्थान मूल निवास प्रमाण-पत्र आवेदन प्रक्रिया

मूल निवास बनाने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा ऑफलाइन आवेदन स्वीकार नहीं है। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीक ई-मित्र पर जाना होगा वहां पर आपको सभी डॉक्यूमेन्ट और फार्म जमा करवाने है। 7 से 10 दिनों में आपका मूल निवास बनकर आ जायेगा। जिसका मैसज आपको समय-समय मिलता रहेगा। मूल निवास बनाने में 60 रूपये का खर्चा आता है पहला टोकन 40 रूपये का और जब प्रिन्ट निकालते हो तब 20 रूपये का अलग टोकन कटता है।

राजस्थान मूल निवास प्रमाण-पत्र आप खुद भी बना सकते हो जिसके आपको SSO आई डी की जरूरत होती है। हमारी राय यही है कि आप ई-मित्र पर जाकर ही फार्म भरे। तो दोस्तो इस तरीके से आप आसानी से मूल निवास बनवा सकते हो। अगर आपको फार्म भरने में कोई परेशानी आ रही है या और कुछ समझ नहीं आ रहा है तो आप हमें कमेन्ट भी कर सकते हो।

Mool Niwas खुद कैसे बनायें

प्‍यारे दोस्‍तो अभी तक तो आपने यह सीखा कि Mool Niwas Kaise Banta Hain और मूल निवास बनवाने के लिए आपको ईमित्र पर जाना होगा लेकिन अब बात आती हैं कि हम खुद भी क्‍या मूल निवास बना सकते हैं। जी हां आप खुद भी Bonafied Certificate बना सकते हों। इसके लिए सबसे पहले आपको अपनी खुद की एक SSO ID बनानी होगी। इसके बाद आपको इसमें ईमित्र का ऑप्‍शन मिल जायेगा। उसके बाद बाकी वही सेम प्रक्रिया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here