Mortivational Story – दुनिया मे ऐसा कोई ताला नहीं जिसकी चाबी ना बनी हो

बंद ताले की चाबी गुम जाये तो क्या ताला बंद ही रहेगा या फिर खुलेगा - Mortivational Story In Hindi

0
54
Mortivational-Story/दुनिया-मे-ऐसा-कोई-ताला-नहीं-जिसकी-चाबी-ना-बनी-हो
दुनिया मे ऐसा कोई ताला नहीं जिसकी चाबी ना बनी हो

दुनिया मे ऐसा कोई ताला नहीं जिसकी चाबी ना बनी हो Mortivational Story

 

searchduniya.com

यदि बंद ताले की चाबी गुम जाये तो क्या ताला बंद ही रहेगा या फिर खुलेगा Mortivational Story In Hidni

 

दुनिया मे ऐसा कोई ताला नहीं जिसकी चाबी ना बनी हो Mortivational Story

Mortivational Story In Hindi – प्रेरक कहानी व सुविचार ओर मजबूत इरादे जो आपको कभी कमजोर नहीं होने देंगे

आज की इस स्टोरी के माध्यम से हम की अपने दिन की शुरुआत कुछ प्रेरक विचारो ओर मजबूत इरादो से करते है । आज की इस स्टोरी को पढ़कर आप जीवन मे सकारात्मकता की ओर आगे बढ़ सकते है । ओर ये कभी नहीं सोचोगे की जीवन की किसी भी समस्या का कोई हल नहीं है ।

दुनिया मे ऐसा कोई ताला नहीं जिसकी चाबी ना बनी हो Mortivational Story

तो दोस्तो शुरू करते है आज की स्टोरी

हमारी आज की स्टोरी ताले ओर चाबी को लेकर है जिसमे बताया गया ही की यदि एक बंद ताले की चाबी गुम जाये तो क्या ताल बंद रहेगा या खुलेगा । कहाँ जाता है की दुनिया ने ऐसा कोई ताला नहीं है जिसकी कोई चाबी न बनी हो । या फिर हम ऐसे मन सकते है की यदि हमारे पास ताले की चाबी गुम जाए तो क्या वो ताले हमेशा के लिए बंद तो नहीं रहेगा । हर ताले की चाबी बनाई जा सकती है । वैसे ही दुनिया मे एसी कोई समस्या नहीं जिसका हल नहीं निकाला जा सकते । परेशानी ये होती है की हम गलत ताले मे गलत चाबी लगाने की कोशिश करते है ।

दुनिया मे ऐसा कोई ताला नहीं जिसकी चाबी ना बनी हो Mortivational Story
जीवन मे ये बाते हमेशा याद रखना
जहां पर हिम्मत पूरी होती है वही पर हर की शुरुआत होती है । जब आप अपने मन मे ये सोच लेते है की ये कार्य मुझ से नहीं हो सकता तो फिर आप उसको लाख कोशिश करने के बाद भी नहीं कर सकते । क्योकि किसी कार्य को करने के लिए हिम्मत ओर आत्मविशवास दोनों का होना जरूरी है । जीवन मे होसला कभी छोड़िए नहीं, हिम्मत कभी हरिए नहीं । यदि आप जीवन मे इन बातो का ध्यान रखेंगे तो आपके जीवन के कभी कोई परेशनिया आपको अपने अधीन नहीं कर पाएँगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here