सरकारी योजना एवं सरकारी नौकरियों की ताजा अपडेट के लिए टेलीग्राम जॉइन करें- Click Here
ताजा खबरशिक्षासरकारी योजना

Agneepath Scheme: अग्निवीरों का क्या होगा 4 साल बाद भविष्य?

agneepath scheme in hindi: अग्निवीरों का 4 साल बाद क्या होगा भविष्य?

Agneepath Scheme Indian Army New Update 2022

Agneepath Scheme: अग्निपथ योजना की घोषणा के बाद से ही सवाल उठ रहें है | अग्निपथ स्कीम (Agneepath Scheme) का ऐलान होने के बाद अब युवा अपने भविष्य को लेकर आशंकाएं जाहिर कर रहे हैं, तो सेना से रिटायर्ड अधिकारी सेना की क्षमता पर कहीं गलत असर तो नहीं पड़ेगा, इसे लेकर चिंता जाहिर कर रहे हैं। साथ ही सोशल मीडिया के जरिए युवा लगातार सवालों-पर सवाल पूछ रहें है | इसी के चलते हर कोई जानना चाह रहा है की अग्निपथ योजना क्या है और इस से जुड़े काफी सवाल आ रहें है इन सभी सवालों के जवाब आप को इस पोस्ट में मिलने वाला है |

अग्निपथ योजना से जुड़े सवालों के जवाब आप देखें – www.Searchduniya.com पर 

प्रश्न 1 – अग्निवीर क्या है ?

उत्तर- अग्निवीर क्या है अगर सरल शब्दों में हम बात करें तो हमारे देश में जो युवा सेना की नौकरी में भर्ती होना चाहते है उनके लिए ही अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) शुरू की गई है |

अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme)  के माध्यम से देश के युवा 4 वर्ष के लिए सेवा में भर्ती हो सकतें है |

अग्निपथ योजना के तहत देश के जीतने भी युवा देश की तीनों सेवाओं में से किसी में भी भर्ती होंगे तो उन्हें अग्निवीर कहा जाएगा |

प्रश्न 2 – अग्निवीर बनने के लिए उम्‍मीदवार की आयु कितने वर्ष के बीच होनी चाहिए ?

उत्तर. अग्निवीर बनने के लिए उम्‍मीदवार की आयु 17.5 वर्ष  से 21 वर्ष के बीच होनी चाहिए ।

प्रश्न 3. अग्निवीर बनने के लिए उम्‍मीदवार का चयन सेना मे किस प्रकार होगा ?

उत्तर. अग्निवीर बनने के लिए उम्‍मीदवारो के चयन के लिए सेना स्‍पेशल रिक्रूटमेंट रैली आयोजित करेगी और कैंपस इंटरव्‍यू आयोजित किए जाएंगे ।

प्रश्न 4. अग्निवीर बनने के लिए उम्‍मीदवार की शिक्षा मे योग्यता क्या होगी ?

उत्तर. अग्निवीर भर्ती के आवेदन लिए उम्‍मीदवार को किसी भी स्‍ट्रीम से 12वीं पास होना चाहिए.

यह भी पढ़ें :- इस योजना से जुड़ी बड़ी खबर यहाँ देखें – क्लिक करें

प्रश्न 5. अग्निवीर सेना में भर्ती होने वालो सैनिको को हर महीने कितना वेतन दिया जाएगा?

उत्तर.

पहले वर्ष वेतन –

1st Year – Rs. 30,000 /- Per Month (In Hand Rs. 21,000 /-)

दूसरे वर्ष वेतन –

2nd Year – Rs. 33,000 /- Per Month (In Hand Rs. 23,100 /-)

तीसरे वर्ष वेतन –

3rd Year – Rs. 36,500 /- Per Month (In Hand Rs. 25,580 /-)

चोथे वर्ष वेतन –

4rd Year – Rs. 40,000 /- Per Month (In Hand Rs. 28,000 /-)

30% Agniveer Corpus Fund

1st Year – 30% Agniveer Corpus Fund – Rs. 9,000/-)

2nd Year – 30% Agniveer Corpus Fund – Rs. 9,900/-)

3rd Year – 30% Agniveer Corpus Fund – Rs. 10,950/-)

4rd Year – 30% Agniveer Corpus Fund – Rs. 12,000/-)

30% Agniveer Corpus Fund Total – Rs. 5.02 Lakh

प्रश्न 6. अग्निवीर सेना में भर्ती होने वालो सैनिको को 4 साल बाद सेना से बाहर होने वालो को कितनी धन राशि दी जाएगी ?

उत्तर. अग्निवीर सेना में भर्ती होने वालो सैनिको को 4 साल बाद सेना से बाहर होने वालो को 11.71 लाख रुपए की सेवा निधि भी दी जाएगी जिस पर किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं लगेगा।

प्रश्न 7. अग्निवीर सैनिको के शहीद होने पर कितनी धन राशि मिलेगी?

उत्तर.

यदि नौकरी के दौरान कोई अग्निवीर शहीद हो जाता है या फिर उसके शरीर का कोई हिस्सा पूरी तरह से डिसएबल हो जाता है, तो उन अग्नि वीरों को आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाती है।

अग्नि वीरो के शहीद होने की स्थिति में उसके परिजनों को 1 करोड रुपए से भी अधिक राशि ब्याज सहित दी जाती है। जबकि बाकी बची हुई नौकरी का वेतन भी पूरा दिया जाता है।

इसके अलावा जो अग्निवीर डिसएबल हो जाता है, तो उसे 44 लाख रुपए की राशि दी जाती है जबकि बाकी बची हुई नौकरी का भी पूरा वेतन दिया जाता है।

सरकारी भर्तियों की अपडेट टेलीग्राम पर पाने के लिए यहां क्लिक करें

Click Here

प्रश्न 8. अग्निवीर 4 साल बाद सेना से बाहर हो जाने के बाद क्या करेंगे ?

उत्तर.

4 साल बाद सेना से बाहर होने वाले अग्निवीरो में से 25 पर्सेंट को सेना में रेगुलर कर लिया जाएगा जबकि 75 पर्सेंट बाहर होंगे।

गृह मंत्रालय ने ऐलान किया है कि उन्हें सीएपीएफ और असम राइफल्स में प्राथमिकता दी जाएगी।

यूपी और उत्तराखंड सरकार ने भी राज्य पुलिस में प्राथमिकता देने की बात कही है।

चार साल बाद उनके पास 11.7 लाख रुपये का बैंक बैलेंस भी होगा।

जिसका इस्तेमाल वे आगे अपना काम करने के लिए कर सकते हैं।

प्रश्न 9. अग्निपथ के तहत भर्ती कब शुरू होगी और पहले साल आर्मी, नेवी, एयरफोर्स में कितने अग्निवीर की भर्ती होगी होगी?

उत्तर.

अग्निपथ के तहत आर्मी की रिक्रूटमेंट रैली 90 दिन में हो जाएगी।

करीब 180 दिन बाद पहले चरण के अग्निवीर रिक्रूटमेंट सेंटर में पहुंच जाएंगे और एक साल में अग्निवीर भारतीय सेना की बटालियन का हिस्सा हो जाएंगे।

पहले साल आर्मी में 40 हजार, नेवी में 3 हजार और एयरफोर्स में करीब 3500 अग्निवीरों की भर्ती होगी।

प्रश्न 10. क्या आर्मी में उम्र की 21 साल की सीमा जीडी के लिए ही हैं, क्लर्क और ट्रेडमैन के लिए क्या उम्र है?

उत्तर. आर्मी ने साफ किया है कि सभी भर्तियां अग्निपथ के तहत ही होंगी।

और सबके लिए उम्र की सीमा 17.5 साल से 21 साल के बीच ही है।

प्रश्न 11. जो पुरानी भर्ती का नोटिफिकेशन आया था 20 साल की सर्विस के लिए। लिखित, फिजिकल, मेडिकल सब होगा, पीएलएस भी आ गई थी, अब क्या होगा?

उत्तर.

सभी पुरानी प्रक्रियाएं अब आगे नहीं बढ़ेंगी।

अग्निपथ के तहत ही सभी भर्ती होंगे और उसके लिए 90 दिन में रिक्रूटमेंट रैली होगी।

अग्निपथ के तहत ही अप्लाई करना होगा।

प्रश्न 12. दो साल से एयरफोर्स एनरोलमेंट लिस्ट का इंतजार कर रहे हैं, आगे क्या?

उत्तर.

पुरानी भर्ती प्रक्रिया में अब आगे कुछ नहीं होगा सारी भर्ती अब अग्ननिपथ के तहत आर्मी, नेवी और एयरफोर्स भर्ती होंगी।

प्रश्न 13. क्या आर्मी का वह एग्जाम होगा जिसका मेडिकल और फिजिकल पहले हो गया था?

उत्तर.

नहीं अब सेना में सभी भर्तियां अग्निपथ स्कीम के जरिए ही होंगी और भर्ती के लिए युवाओं को अग्निपथ स्कीम के तहत ही अप्लाई करना होगा। पुराने मेडिकल या फिजकल टेस्ट को नहीं मान्य नहीं होंगे। अब नए सिरे से अग्निपथ के लिए अप्लाई करना होगा 90 दिन में आर्मी की पहली रिक्रूटमेंट रैली हो जाएगी।

प्रश्न 14. 10 वीं 12 वीं पास करेंगे अग्निवीर बनेंगे, आगे पढ़ना हो तो क्या करेंगे?

उत्तर.

4 साल में सेना में रहते उन्हें स्किल ट्रेनिंग दी जाएगी।

शिक्षा मंत्रालय ने कहा है कि उनके लिए तीन साल का स्किल ट्रेनिंग आधारित ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स शुरू किया जाएगा।

इसे इग्नू बनाएगा और चलाएगा। अग्निवीरों को पहले साल ग्रेजुएशन सर्टिफिकेट, दूसरे साल ग्रेजुएशन डिप्लोमा और तीसरे साल ग्रेजुएशन डिग्री मिल जाएगी।

प्रश्न 15. सेना में अग्निवीर हर साल भर्ती होंगे, महज 25 पर्सेंट परमानेंट होंगे तो एक ऐसा वक्त आएगा जब अग्निवीर ज्यादा और परमानेंट सैनिक कम हो जाएंगे?

उत्तर.

इंडियन आर्मी के वाइस चीफ ने कहा कि अधिकतम 50 पर्सेंट ही अग्नवीर होंगे और यह रेशियो अधिकतम 50 : 50 रहेगा। इससे ज्यादा नहीं होगा। अगर आगे कोई दिक्कत आती है तो जरूरी बदलाव के लिए भी हम तैयार हैं।

प्रश्न 16. एयरफोर्स में एयरमैन का एग्जाम देने वाले लोगों का अब क्या होगा?

उत्तर.

सेना ने साफ किया कि अब सभी भर्तियां अग्निपथ स्कीम के तहत ही होंगी और इससे यह साफ है कि पुराने एग्जाम की प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ेगी।

प्रश्न 17. पिछले 2 साल से सेना में कोई भर्ती नहीं हुई है क्या सेना में जाने वाले इच्छुक लोगों को उम्र में छूट मिलेगी?

उत्तर.

युवाओं की मांगों में एक यह भी है कि उम्र में छूट दी जाए क्योंकि दो साल से भर्ती नहीं हुई है। हालांकि सरकार ने भी माना है कि कोविड की वजह से भर्ती रुकी रही लेकिन अग्निपथ स्कीम के तहत भर्ती में उम्र में किसी भी तरह की छूट की घोषणा नहीं की गई है। साढ़े 17 साल से 21 साल के बीच के युवा ही अग्निपथ में अप्लाई कर पाएंगे।

प्रश्न 18. सेना में अस्थायी नौकरी के भरोसे क्या युवा इसमें आने को लेकर उत्सुक होंगे?

उत्तर.

एयरफोर्स चीफ ने कहा कि हम युवाओं को एक साथ तीनों मौकें दे रहे हैं। उन्हें अच्छी सैलरी मिलेगी, चार साल में बैक बैलेंस हो जाएगा। स्किल ट्रेनिंग भी दी जाएगी। ट्रेनिंग के क्रेडिट पॉइंट उन्हें मिलेंगे। यह चार साल बाद हायर एजुकेशन लेने में सहायता करेगा।

प्रश्न 19. अधिकतम उम्र 21 साल रखी गई है तो क्या यह सभी पदों के लिए है?

उत्तर.

सेना ने साफ किया है कि सभी भर्तियां अग्निपथ के तहत होंगी और इसमें भर्ती की उम्र साढ़े 17 साल से 21 साल के बीच ही है।

प्रश्न 20. सेना में परमानेंट होने का कितना चांस है? परमानेंट नहीं होने वाले अग्निवीर 4 साल के बाद क्या करेंगे?

उत्तर.

अग्निवीर के हर बैच से अधिकतम 25 पर्सेंट को परमानेंट करने का विकल्प दिया गया है। बाकी की सर्विस 4 साल की ही रहेगी। लेकिन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के दिए जवाब के अनुसार, चिंता की बात नहीं है क्योंकि कई मंत्रालय, पीएसयू और कुछ राज्य भी अग्निवीरों को लेने पर सहमत हुए हैं।

प्रश्न 21. क्या सेना की तरह पेंशन और एक्स सर्विसमैन को मिलने वाली दूसरी सुविधाएं मिलेंगी?

उत्तर.

इस स्कीम में ऐसा नहीं है। 4 साल बाद न तो पेंशन मिलेगी, ना ही एक्स सर्विसमैने को मिलने वाली दूसरी सुविधाएं। 4 साल की सर्विस में उन्हें 30 हजार रुपये से लेकर 40 हजार रुपये तक की सैलरी मिलेगी। सेवा निधि स्कीम के तहत जो पैसे जमा होंगे वह उन्हें मिलेंगे।

प्रश्न 22. क्या अग्निपथ स्कीम का उद्देश्य सिर्फ सेना का खर्च कम करना है?

उत्तर.

यह सही है कि डिफेंस बजट का एक बड़ा हिस्सा पेंशन में खर्च हो जाता है और कई बार इस पर चर्चा हुई कि पेंशन का खर्च कम किया जाए ताकि उस पैसे को सेना के मॉर्डनाइजेशन में इस्तेमाल किया जा सके। हालांकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह के अनुसार बचत करना उद्देश्य नहीं है। उन्होंने कहा कि आर्म्ड फोर्स की जितनी जरूरत है उतना खर्च करने को तैयार हैं।

Agneepath Scheme के बारें में अधिक जानकारी यहाँ देखें

ताजा खबरें सबसे पहले देखने के लिए WhatsApp Group Join करें - Click Here

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button